Shark Tank India 2 : फैन बोले- अश्नीर ग्रोवर के बिना शो में मजा नहीं आ रहा, अनुपम मित्तल ने दिया करारा जवाब

37
Shark Tank India 2: Fan said - without Ashneer Grover show is not fun, Anupam Mittal gave befitting reply

Shark Tank India 2: बिजनेस रियलिटी शो शार्क टैंक इंडिया (Shark Tank India 2) एक नए सीज़न के साथ वापस आ गया है। लेकिन इस बार इस शो में सभी को एक चीज की कमी खल रही है।

वो है अशनीर ग्रोवर की मौजूदगी। हालांकि, इस सीजन में जितनी भी शार्क वापस आई हैं। उनका कहना है कि यहां कोई किसी को मिस नहीं कर रहा है। टॉक्सिक लोगों को शो से दूर ही रखा जाए तो बेहतर है।

हाल ही में एक फैन ने अनुपम मित्तल की पोस्ट पर कमेंट किया और अशनीर ग्रोवर का जिक्र किया, जिसे लेकर अनुपम मित्तल खुद को रोक नहीं पाए हैं।

बता दें कि शार्क टैंक इंडिया (Shark Tank India 2) के पहले सीजन में अशनीर ग्रोवर जज थे। दूसरे सीजन में उन्हें मौका नहीं मिला। इससे ग्रोवर के प्रशंसकों में मायूसी छा गई है। कारदेखो के सह-संस्थापक अमित जैन ने अशनीर ग्रोवर का स्थान लिया है।

अनुपम मित्तल बोले- बिग बॉस देखिए

दरअसल, जूते का बिजनेस करने वाले गणेश Shark Tank India 2 के मंच पर आए थे। उसकी कहानी सुनकर सभी शार्क भावुक हो जाएंगे। गणेश का व्यवसाय घाटे में है।

ऐसे में व्यापार को फिर से खड़ा करने के लिए गणेश शार्क से मदद मांगते हैं। शार्क उनकी मदद नहीं कर सकती थीं, लेकिन अनुपम मित्तल ने उन्हें नौकरी की पेशकश ज़रूर की थी। सभी उनकी तारीफ भी कर रहे हैं.

अनुपम ने इसका वीडियो शेयर कर उन्हें बाजीगर भी बताया है। इस वीडियो के कमेंट में एक यूजर ने कहा कि अशनीर ग्रोवर नहीं हैं। इसलिए मजा नहीं आ रहा है। इसका जवाब देते हुए अनुपम मित्तल ने कहा कि बिग बॉस देखिए।

अश्नीर ग्रोवर को अनफॉलो कर दिया

अशनीर ग्रोवर ने एक पोडकास्ट में कहा है कि उन्हें दूसरा सीजन देखने में कोई दिलचस्पी नहीं है। ग्रोवर ने यह भी कहा कि वह खुद को ‘किरायेदार’ नहीं ‘बिल्डर’ मानते हैं। मुझे लगता है कि सेपरेशन क्लीन होना चाहिए।

जब मैं Shark Tank India 2 में शामिल नहीं हुआ था, तब भी कई शार्क थे। मैंने उन्हें सोशल मीडिया से अनफॉलो कर दिया। यार, अब यह तुम्हारा खेल है, तुम इसे खेलो।

शार्क टैंक के सेट पर पर्दे के पीछे क्या चल रहा है, मुझे हर रोज क्यों देखना चाहिए? यह अब मेरे जीवन का हिस्सा नहीं है, तो मैं अतीत में क्यों रहूं?” ये सब अतीत की बातें हैं।