उत्तरकाशी की सुरंग से ‘जिंदगी की जंग’ जीतकर बाहर निकले सभी 41 श्रमिक, खुशी से झूमे लोग

Uttarkashi Tunnel Rescue Live Update

Uttarkashi Tunnel Rescue : उत्तराखंड के उत्तरकाशी के सिल्क्यारा टनल में फंसे सभी 41 मजदूरों को एक-एक करके सुरक्षित बाहर निकाल लिया गया है। रेस्क्यू ऑपरेशन शुरू होने के 17वें दिन मंगलवार 27 नवंबर को शाम तक मजदूरों को एक-एक करके बाहर निकाला गया।

प्रत्येक कर्मचारी को निकालने में लगभग 3-5 मिनट का समय लगा। पहले हाथ से ड्रिलिंग की गई, फिर पाइप बिछाया गया और फिर उसके जरिए मजदूरों को बाहर निकाला गया। 12 नवंबर को उत्तराखंड चारधाम मार्ग पर निर्माणाधीन सुरंग का एक हिस्सा ढह जाने के बाद मजदूर पिछले 17 दिनों से अंदर फंसे हुए थे।

रेस्क्यू ऑपरेशन में अंतर्राष्ट्रीय सुरंग विशेषज्ञ अर्नोल्ड डिक्स की मदद मिली

मजदूरों को बचाने के लिए सुरंग में मलबे के बीच 800 मिमी व्यास वाले स्टील पाइप का उपयोग करके रास्ता बनाया गया। फिर पहिएदार स्ट्रेचर की मदद से पाइप के जरिए एक-एक कर मजदूरों को बाहर निकाला गया। मौके पर ही श्रमिकों का परीक्षण कर उन्हें एम्बुलेंस की मदद से अस्पताल पहुंचाया गया। बाहर आने के बाद फंसे हुए श्रमिकों की देखभाल के लिए चिन्यालीसौड़ के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में 41 बिस्तरों वाला अस्पताल तैयार किया गया है।

सुरंग में फंसे मजदूर कहां के हैं?

उत्तरकाशी की इस सुरंग के अंदर फंसे मजदूर अलग-अलग राज्यों से रोजी-रोटी की तलाश में आए हैं. इनमें झारखंड के पंद्रह, उत्तर प्रदेश के आठ, ओडिशा और बिहार के पांच-पांच, पश्चिम बंगाल के तीन, उत्तराखंड और असम के दो-दो और हिमाचल प्रदेश के एक श्रमिक शामिल हैं।

के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में 41 बिस्तरों वाला हॉस्पिटल तैयार

आपको बता दें कि उत्तरकाशी से लगभग 30 किमी और देहरादून से सात घंटे की ड्राइव पर स्थित सिल्क्यारा सुरंग केंद्र सरकार की चार धाम ऑल वेदर रोड परियोजना का एक अभिन्न अंग है। इसकी मदद से हिंदू तीर्थ स्थलों बद्रीनाथ, केदारनाथ, गंगोत्री और यमुनोत्री तक कनेक्टिविटी बढ़ाने की तैयारी की जा रही है।

रेस्क्यू ऑपरेशन में अंतर्राष्ट्रीय सुरंग विशेषज्ञ अर्नोल्ड डिक्स की मदद मिली

आनंद महिंद्रा ने ट्वीट किया

मशहूर बिजनेसमैन आनंद महिंद्रा ने ट्वीट किया, ‘यह कृतज्ञता का समय है। इन 41 बहुमूल्य जिंदगियों को बचाने के लिए पिछले 17 दिनों में अथक प्रयास करने वाले सभी लोगों को धन्यवाद। किसी भी खेल की जीत से अधिक, आपने देश का मनोबल बढ़ाया है और हमें आशा में एकजुट किया है। आपने हमें याद दिलाया है कि किसी भी सुरंग से निकलना मुश्किल नहीं है, कोई भी कार्य असंभव नहीं है जब हमारे कार्य और प्रार्थनाएँ सहयोगात्मक और सामूहिक हों।

चट्टानों का सीना चीर कर बाहर आए सभी 41 मजदूर

कांग्रेस नेता ने रेस्क्यू टीम को बधाई दी

कांग्रेस नेता जयराम रमेश ने ट्वीट कर लिखा, 17 दिनों की कड़ी मेहनत के बाद उत्तराखंड के सिल्कयारा सुरंग में फंसे 41 मजदूरों को बचाया जा रहा है. पूरा देश श्रमिकों के उल्लेखनीय लचीलेपन और धैर्य को सलाम करता है। देश पूरी बचाव टीम के समर्पण, कौशल और दृढ़ता की भी सराहना करता है और उन्हें तहे दिल से धन्यवाद देता है।