KYC के लिए बैंक क्यों जाएं? घर बैठे काम जल्दी पूरे होंगे, ये है आसान प्रक्रिया

36
Banks can also take the help of AI and facial recognition tools during the video KYC for new customers.

KYC will be completed sitting at home : अगर आप अपने बैंक अकाउंट, पॉलिसी या डीमैट अकाउंट का KYC करवाना चाहते हैं, तो बैंक जाने की जरूरत नहीं है। इस काम को पूरा करने के लिए रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (RBI) ने बड़ी राहत दी है।

अब घर बैठे ही केवाईसी की प्रक्रिया पूरी की जा सकती है। अब ग्राहक वीडियो केवाईसी Video KYC (Video Customer Identification Process) सुविधा के जरिए कहीं से भी यह काम आसानी से कर सकते हैं।

Video KYC का रास्ता साफ

बिजनेस स्टैंडर्ड की रिपोर्ट के मुताबिक, भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) की ओर से गुरुवार को जारी प्रेस रिलीज में कहा गया है कि ब्रांच जाने के अलावा ‘Know Your Customer’ यानी KYC प्रक्रिया भी वीडियो मोड के माध्यम से पूरी की जा सकती है।

इसके अलावा रिजर्व बैंक ने यह भी कहा है कि, अगर केवाईसी में कोई बदलाव नहीं होता है तो फिर से केवाईसी प्रक्रिया पूरी करने के लिए ग्राहक का ‘सेल्फ डिक्लेरेशन-Self Declaration’ ही काफी है।

आरबीआई ने बैंकों को दी यह सलाह

आरबीआई ने सभी बैंकों को एक एडवाइजरी भी जारी की है, जिसमें कहा गया है कि उन्हें बैंक द्वारा री-केवाईसी पूरा करने के लिए दिए गए विभिन्न विकल्पों के बारे में जानकारी देने के लिए भी प्रोत्साहित किया जाना चाहिए।

नई अधिसूचना के अनुसार, ग्राहकों के पास नॉन-फेस-टू-फेस (Face-To-Face) चैनलों के माध्यम से स्व-घोषणा देने, बैंक शाखा में जाकर आवश्यक दस्तावेज जमा करने या वी-सीआईपी (V-CIP) के माध्यम से रिमोट केवाईसी पूरा करने का विकल्प होगा।

शिकायत मिलने के बाद दी बड़ी राहत

लगातार फोन कॉल और मैसेज के जरिए बैंक ग्राहकों से संबंधित शाखा में पहुंचकर केवाईसी प्रक्रिया पूरी करने का आग्रह करते हैं।

आरबीआई के पास बड़ी संख्या में ऐसी शिकायतें पहुंच रही हैं। इस परेशानी को खत्म करने के लिए रिजर्व बैंक ने अब एक नई सुविधा देने का रास्ता साफ कर दिया है।

गौरतलब है कि दिसंबर 2022 में आरबीआई गवर्नर शक्तिकांत दास ने कहा था कि, ग्राहकों को बैंक में अपनी डिटेल अपडेट कराने के लिए बैंक जाने की जरूरत नहीं है, अगर पते में कोई बदलाव नहीं होता है तो वे अपना री-केवाईसी ऑनलाइन (re-KYC Online) करवा सकते हैं।

ग्राहकों को करना होगा यह काम

भारतीय रिजर्व बैंक ने कहा है कि अगर किसी ग्राहक को फिर से केवाईसी करना है, तो वह पंजीकृत ईमेल आईडी-मोबाइल नंबर, एटीएम, ऑनलाइन/इंटरनेट बैंकिंग, मोबाइल ऐप का उपयोग करके घर से या कहीं भी शाखा में जाए बिना अपना केवाईसी करवा सकता है।

यानी उसे इस काम के लिए बैंक के चक्कर लगाने की जरूरत नहीं है। वहीं अगर ग्राहक को पता अपडेट कराना है तो वह अपना अपडेटेड पता दे सकता है, इसे इस बैंक द्वारा अधिकतम दो महीने के भीतर सत्यापित किया जाएगा।