Mallikarjun Kharge on Joshimath: जोशीमठ पर इसरो की रिपोर्ट और मीडिया से बात करने पर रोक, खड़गे ने पीएम मोदी पर साधा निशाना

66
Mallikarjun Kharge on Joshimath

Mallikarjun Kharge on Joshimath: कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे ने शनिवार (14 जनवरी) को जोशीमठ संकट को लेकर पीएम मोदी पर निशाना साधा है।

उत्तराखंड के जोशीमठ के बाद कर्णप्रयाग में भी घरों में दरारें आ गई हैं। जोशीमठ में असुरक्षित घोषित किए गए मलारी इन और माउंट व्यू नाम के दो होटलों को गिराने की प्रक्रिया शुक्रवार सुबह से शुरू हो गई है। जमीन के धंसने से दोनों होटल एक-दूसरे पर झुक गए हैं, जिससे बड़ी संरचनात्मक क्षति हुई है।

उन्होंने सरकार पर घरों में दरारों की खबरों को दबाने का आरोप लगाते हुए ट्वीट किया कि “जोशीमठ के बाद, अब कर्णप्रयाग व टेहरी गढ़वाल से भी मकानों में दरारों की ख़बर आ रही है। विपदा का समाधान व जनता की समस्याओं के निदान के बजाय, सरकारी एजेंसियों- ISRO की रिपोर्ट पर पाबंदी और मीडिया से बातचीत पर रोक लगाई. नरेंद्र मोदी जी, डू नॉट शूट द मैसेंजर.”  

कर्णप्रयाग में भी घरों में दरारें

इस बीच, चमोली जिला प्रशासन ने गुरुवार की शाम कर्णप्रयाग के आठ परिवारों को नोटिस जारी कर उन्हें मकान खाली करने को कहा क्योंकि उन्हें रहने के लिए असुरक्षित घोषित किया गया था।

कर्णप्रयाग नायब तहसीलदार कर्णप्रयाग ने कहा कि हमने आठ परिवारों को रहने के लिए असुरक्षित बने घरों को खाली करने का नोटिस दिया है और प्रभावित परिवारों को नगर निगम बोर्ड द्वारा संचालित आश्रय गृह में स्थानांतरित कर दिया है।

जोशीमठ संकट को लेकर पीएम मोदी ने उत्तराखंड के सीएम पुष्कर सिंह धामी से बात की और हर संभव मदद का आश्वासन दिया। इस मामले को लेकर पीएमओ ने हाई लेवल मीटिंग की थी. सीएम पुष्कर धामी ने कहा था कि पीएम मोदी जोशीमठ संकट की पल-पल जानकारी ले रहे हैं।

जोशीमठ की ताजा स्थिति

चमोली जिला आपदा प्रबंधन प्राधिकरण ने कहा कि जोशीमठ के प्रभावित लोगों को निकालने का काम जारी है और अब तक 223 परिवारों को राहत केंद्रों में स्थानांतरित किया जा चुका है। जिन घरों में दरारें आ गई हैं उनकी संख्या 782 है, जिनमें से 148 को असुरक्षित चिह्नित किया गया है।

इसे भी पढ़ें