Joshimath in Uttarakhand : जोशीमठ में दरार पर पीएमओ में हुई हाई लेवल मीटिंग, NDRF और SDRF की टीमें मौजूद, जांच एजेंसियां कल करेंगी जांच

32
Joshimath in Uttarakhand: High level meeting held in PMO NDRF and SDRF teams present, investigate tomorrow

Joshimath in Uttarakhand : उत्तराखंड में जोशीमठ को भूस्खलन और धंसाव क्षेत्र घोषित किया गया है। साथ ही शहर में क्षतिग्रस्त मकानों में रह रहे 60 से अधिक परिवारों को अस्थाई राहत केंद्रों में शिफ्ट किया गया है।

वहीं, इस मसले को लेकर पीएमओ में एक हाई लेवल मीटिंग हुई। बैठक की अध्यक्षता प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के प्रधान सचिव पीके मिश्रा ने की।

एनडीआरएफ व एसडीआरएफ की टीमें मौजूद

अधिकारियों ने बताया कि जोशीमठ में एनडीआरएफ की एक और एसडीआरएफ की चार टीमें मौजूद हैं। इसके साथ ही सीमा प्रबंधन सचिव, एनडीएमए के सदस्य सोमवार को उत्तराखंड जाकर स्थिति का जायजा लेंगे.

गढ़वाल के आयुक्त सुशील कुमार ने कहा कि स्थानीय प्रशासन ने हिमालयी शहर में चार-पांच स्थानों पर राहत केंद्र स्थापित किए हैं और कम से कम 90 और परिवारों को निकाला जाना है।

इस बीच, चमोली के जिलाधिकारी हिमांशु खुराना ने घर-घर जाकर नुकसान का जायजा लिया और टूटे-फूटे मकानों में रहने वाले लोगों से राहत केंद्रों में जाने की अपील की है।