शादी की उम्र बढ़ाई और शराब की : ओवैसी का केंद्र पर तीखा हमला, जानें और क्या बोले

28
ओवैसी

Asaduddin Owaisi News: AIMIM चीफ असदुद्दीन ओवैसी (AIMIM Chief Asaduddin Owaisi) ने केंद्र की मोदी सरकार पर निशाना साधा है। उन्होंने शराब से मौत का हवाला देते हुए युवाओं को राजनीति में शामिल करने की बात कही है।

इतना ही नहीं उन्होंने तंज कसते हुए कहा कि बीजेपी शादी की उम्र 21 साल करना चाहती है लेकिन शराब की न्यूनतम उम्र घटाना चाहती है, शराब एक सार्वजनिक स्वास्थ्य मुद्दा है। यह केवल सरकार के कर राजस्व तक ही सीमित नहीं है।

ओवैसी ने ट्वीट कर कहा कि शराब से होने वाली मौतों के कारण जीडीपी को भी 1.5 फीसदी का नुकसान हो रहा है। ऐसे में युवाओं को राजनीति में लाना जरूरी है। उन्होंने लोकसभा चुनाव लड़ने के लिए न्यूनतम आयु 25 से घटाकर 20 करने की मांग की।

यह पहली बार नहीं है जब ओवैसी ने चुनाव लड़ने की उम्र का मुद्दा उठाया है। उन्होंने अगस्त में मानसून सत्र के दौरान एक निजी विधेयक पेश किया। इस बिल में चुनाव लड़ने की उम्र कम करने की मांग की गई थी. ओवैसी ने अपने बिल में कहा था कि सांसद बनने की उम्र 25 साल से घटाकर 20 साल की जाए.

शराब से होने वाली मौतों से जीडीपी को नुकसान

एक रिपोर्ट में दावा किया गया है कि भारत में अत्यधिक शराब के सेवन से होने वाली मौतों के कारण देश की जीडीपी में हर साल 1.45 फीसदी की कमी आ सकती है। यह बात तीन डॉक्टरों और दो सार्वजनिक शोधकर्ताओं द्वारा किए गए एक अध्ययन में सामने आई है।

इसमें शराब से होने वाली बीमारियों और उनसे होने वाले नुकसान के बारे में भी बताया गया है। इन रोगों में यकृत रोग, कैंसर और सड़क दुर्घटना के आँकड़ों के बारे में बताया गया है।